Four More Shots Season 2 Jarur Dekhe – फॉर मोर शॉट्स सीजन 2 जरूर देखे

Four More Shots Season 2 Jarur Dekhe_फॉर मोर शॉट्स सीजन 2 जरूर देखे_Webollywood

Four More Shots Season 2 Jarur Dekhe – फॉर मोर शॉट्स सीजन 2 जरूर देखे

Must Watch Four More Shots Season 2

For More Shots Season 2 Ke Bare Mei Kuch Baate Jisai Padhne Ke Baad Aap Khud Ko Bina Dekhe Nahi Rok Paiyege

Web Series (वेब सीरीज) – फॉर मोर शॉट्स प्लीज सीज़न 2
Star Cast (स्टार कास्ट) – कीर्ति कुल्हारी, मानवी गागरू, सयानी गुप्ता, वीजे बानी, प्रतीक बब्बर, मलिंद सोमन, अमृता पुरी
Direction (निर्देशन) – अनु मेनन, नुपुर अस्थाना
OTT (ओटीटी) – प्राइम वीडियो

पहले सीज़न की तरह ‘फॉर मोर शॉट्स प्लीज़ 2’ उन्हीं चार आज़ाद लड़कियों की कहानी को आगे बढ़ाती है। Amazon Prime की Web Series की दूसरे सीज़न में हमें ज्यादा इमोशन, खूबसूरती, ग्लैमर और बोल्ड सीन देखने को मिलते हैं। साथ ही नए दौर की महिलाओं की कहानी इंस्पायर भी करती है। पहले सीज़न की तरह ही ‘फॉर मोर शॉट्स प्लीज’ की ये चारों महिलाएं न दुखड़ा रोती हैं और न ही खुद को अबला नारी समझती हैं। ये कहानी दिखाने की कोशिश करती है कि महिलाएं भी जिद्दी और स्वार्थी हो सकती हैं। इस कहानी में भी चारों लड़कियां तमाम मुसीबतों का सामना करती हैं और फिर अपनी ही गलतियों से सीखती हैं।

Watch Online Paatal Lok-Indian Web Television Series-Anushka Sharma Ne Share Ki Apne Paatal Lok Ki Picture

‘फॉर मोर शॉट्स प्लीज़ सीजन -2’ की पूरी Primary कास्ट महिलाओं से भरी थी। दिलचस्प बात यह है कि इसकी दोनों डायरेक्टर भी महिला ही थीं। इसके साथ ही इसके लीड रोल में चार हीरोइनें है, जिन्हें इस Web Series का हीरो भी कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इस सीरीज के चारों किरदार ही इस सीरीज को मुकमल करते हैं।

फिल्मों के परे हमें वेब सीरीज में एकदम अलग विषय देखने को मिलते हैं। ऐसा ही कुछ अनु मेनन और नुपुर अस्थाना ने ‘फॉर मोर शॉट्स प्लीज़’ बनाकर किया है। ये वेब सीरीज दिखाती है कि महिलाओं के लिए भी करियर, घूमना-फिरना, पार्टी करना और यहां तक कि सेक्स और रिलेशनशिप को लेकर एक स्ट्रॉन्ग थिंकिंग गढ़ी जानी जरूरी है।

फैशन, ग्लैमरस से भरपूर ‘फॉर मोर शॉट्स प्लीज़ सीजन -2’ के बहुत से सीन आपको खूब आकर्षित करेंगे। वहीं अगर आप लड़की हैं तो आप इन लड़कियों की लाइफ को खूब एन्जॉय करेगी। जहां आपको पहली नजर में देखने पर सब सेटल और खूबसूरत लगता है लेकिन जब आप कहानी पर आएंगे तो आप महसूस करेंगे कि महिलाओं की स्थिति हर क्लास और सोसाइटी में एक जैसी ही है।

गलत के लिए टोकती भी हैं वेब सीरीज की शुरुआत वहां से होती है जब दो महीने के बाद एक बार फिर चारों सहेलियां मिलती हैं और इंस्ताबुल तक पहुंच जाती हैं। एक बार फिर चारों अपनी खुशियों, नाकामयाबियों और ऊंचाईओं को डिस्कस करने लगती हैं। लड़कियां आपस में गलत के लिए भी टोकती हैं और सही के लिए एक-दूसरो को एडमायर भी करती हैं।

जब लड़कियां करें तो गलत सीरीज़ में लड़कियों का दारू पीना, लड़कों के साथ फ्लर्ट से लेकर सेक्स और देर तक रात पार्टी और कहीं-कहीं थोड़ा सेल्फिश हो जाना, ये सब आपको पहली नजर में सरासर गलत लग सकता है। लेकिन क्या बिना किसी को धोखा दिए अपनी जिंदगी को अपने तरीके से जीना गलत है, यहां मुझे डियर जिंदगी फिल्म में शाहरुख खान का वो डायलॉग याद आता है जिसमें वे अलिया भट्ट से कहते हैं कि जब हम चेयर लेने जाते हैं तो पहली ही चेयर देखकर खरीद नहीं लेते, हम दो तीन चेयर पर बैठते हैं और जो सबसे अरामदायक होती है उसे खरीदते हैं। ऐसे ही जिंदगी में पार्टनर को जब सिलेक्ट करना है और उसके साथ समय बिताना है तो एक बार में चुनना सही है?

सेक्सुअली विषय को उठाती है सेक्स को लेकर हमारे समाज में एक आम धारण यह है कि इसका महिलाओं से कोई लेना देना ही नहीं है। सेक्स को लेकर महिलाओं की पंसद और इच्छा को समाज शुरुआत से एहमियत नहीं देता है। लेकिन अनु मेनन और नुपुर अस्थाना की ये वेब सीरीज इस विषय को मजबूती से उठाती है कि महिलाओं के लिए उनकी हर इच्छा जरूरी है, चाहे वह सेक्स ही क्यों न हो। लड़कियों की वर्जनिटी को लेकर हमारे समाज की कुंठाओं पर भी यह सीरीज चोट करती है।

Direction (निर्देशन)

अनु मेनन की जल्द ही विद्या बालन के साथ शकुंतला देवी फिल्म आने वाली है। इससे पहले हम उनके निर्देशन की कला लंडन पेरिस न्यूयॉर्क में देख चुके हैं। वहीं नुपुर अस्थाना की बेवकूफिया जैसी फिल्म हम पहले देख चुके हैं। इस बार भी इन निर्देशिकाओं ने मजबूती से अपने काम को पर्दे पर उतारा है। निर्देशिकायों ने ग्लैमर, बोल्ड सीन का परफेक्ट बैलेंस के साथ विषय को संजोया है। चारों की दोस्ती और महिलाओं के संवेदनशील रिश्तों के साथ साथ वेब सीरीज कई और भी विषय को छूती निकलती है।

Friendship Quotes – Next To Love, Friendship, In My Opinion